जानिये एक महीने में कितनी बार स्वपनदोष होना नार्मल है ?पुरुष जरुर पढ़ें

स्वपनदोष एक ऐसा शब्द है जिसका हर पुरुष सामना करता है. इस एक शब्द को लेकर तो कई पुरुषों के मन में काफी सवाल भी खड़े रहते हैं कि आखिर ये क्या है? और क्यों होता है? कहीं कोई बिमारी तो नहीं हो गयी? आदि आदि…कई लोग तो ऐसे भी होते हैं जिन्हें जब स्वपनदोष  आता है तो वो काफी टेंशन में आ जाते हैं और इलाज करवाने के लिए दरबदर घूमा करते हैं, कभी किसी डॉक्टर के पास तो कभी किसी हकीम के पास. कई बार तो लोगों की मानसिक स्थिति भी खराब हो जाती हैं. तो चलिए आज हम आपको स्वपनदोष को लेकर काफी कुछ जानकारी देते हैं जिसे जानना आपके लिए बेहद ज़रूरी है.

जी हाँ आपको बता दें कि स्वपनदोष एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें इंसान अपने सपनो में यह देखता है कि वो किसी के साथ या यूँ कहें कि अपने पार्टनर के साथ शारीरिक संबंध बना रहा है,  जिसके बाद स्वपनदोष या नाईटफॉल हो जाता हैं और बाद में आप अपने सपनों से बाहर आ जाते हैं और फिर आपको इस बात का अहसास होता है कि आप तो सपना देख रहे थे.

एक महीने में कितनी बार स्वपनदोष होना नार्मल है ?

एक हष्टपुष्ट इंसान को अगर एक महीने में 2 से 4 बार स्वपनदोष होता है तो ऐसा होना आम बात है. आपको बता दें कि ऐसा होना एक नेचुरल प्रक्रिया भी है, इसलिए आपको इससे डरने की बिलकुल भी ज़रूरत नहीं है.

अगर स्वपनदोष नही होता है तो क्या आप नार्मल हैं ?

स्वपनदोष होना एक नार्मल बात ही हैं और अगर ऐसे में किसी इंसान को बिलकुल भी नाइटफॉल नहीं होता हैं तो बिलकुल भी घबराने की बात नहीं है, क्यूंकि यह एक सामान्य क्रिया है अगर किसी को यह नहीं हो रही तो कोई चिंता करने की बात नहीं है आप फिर भी स्वस्थ हैं और आपको डॉक्टर्स के पास जाने के लिए इतना ज्यादा नहीं सोचना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.